पेरेंट्स की तरह बॉलीवुड में परचम लहराने में नाकामयाब हुए ये बॉलीवुड स्टार्स, फ्लॉप लिस्ट में सबसे ऊपर आता है इनका नाम

हिंदी सिनेमा में अभिनेताओ की पीढ़ी दर पीढ़ी का दौर देखा जा रहा है। इसमें कई फिल्मी कलाकारों के नाम शामिल हैं जिनके उनके बेटे-बेटियां भी फिल्मों में नाम कमा रहे हैं। ऐसे में कुछ स्टार्स का इतिहास यह भी रहा है कि जो अपने माता-पिता के स्टारडम के दम पर बॉलीवुड में आने के बाद भी कुछ खास नहीं कर पाए।

तुषार कपूर

इस कड़ी में सबसे पहले बात करेंगे अभिनेता तुषार कपूर की। तुषार ने फिल्म मुझे कुछ कहना है से अपने अभिनय की शुरुआत की थी। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बड़ी हिट साबित हुई थी लेकिन तुषार कभी अपने पिता जितेंद्र की तरह स्टारडम हासिल नहीं कर पाए। तुषार को बहुत कम फिल्मों में बतौर अभिनेता देखा गया। लगातार फ्लॉप होती फिल्मों के चलते तुषार कपूर को साइड रोल से ही संतुष्ट होना पड़ा।

महाक्षय चक्रवर्थी

हिंदी सिनेमा के मशहूर अभिनेता और डांसर मिथुन चक्रवर्थी आज भी फिल्मों में अपने अंदाज से जाने जाते हैं। 70 के दशक के अंत में हिंदी सिनेमा में कदम रखने वाले मिथुन को असल पहचान 80 के दौर में मिली थी। उन्हें एक अच्छे डांसर की तरह भी देखा जाता है। लेकिन मिथुन के बेटे महाक्षय का फिल्मी करियर शुरू होने से पहली खत्म हो गया। महाक्षय को दर्शक फिल्म हॉन्डट से जानते हैं इसके बाद उनकी ऐसी कोई फिल्म नहीं दो याद करने लायक हो। वहीं, मिथुन का स्टारडम आज भी कयम है।

सोहा अली खान

पुराने जमाने की सुपरहिट अभिनेत्री शर्मिला टैगोर ने बिकनी पहन खूब सुर्खियां बटोरी थी। इसके बाद से शर्मिला हिंदी सिनेमा का बड़ा चेहरा कहलाने लगा। उनके अभिनय और खूबसूरती से उनका स्टाडरम बढ़ता ही गया। इसके बाद शर्मिला के बेटे सैफ अली खान और बेटी सोहा अली खान ने फिल्मों में एंट्री की। सैफ भले ही हिट रहे हो लेकिन सोहा अली खान फिल्मों में बड़ी फ्लॉप साबित हुईं।

सिकंदर खेर

फिल्म जगत के मंझे हुए अभिनेता अनुपम खेर आज भी अपने अभिनय के दम पर बॉलीवुड में राज कर रहे हैं। उनका स्टारडम किसी सुपरस्टार से कम नहीं है। हाल ही में उनकी विवादित फिल्म द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर रिलीज हुई थी। फिल्म में भारत के पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह की भूमिका में नजर आए थे। बात करें उनके बेटे सिकंदर खेर की तो उनका फिल्मी करियर कुछ खास नहीं रहा। आलम यह है दर्शक उनकी एक फिल्म का नाम भी बिना सोचे नहीं बता सकते हैं। उन्हें पहली बार साल 2008 में फिल्म वुडस्टॉक विला में देखा गया था। वहीं, पिछली बाहर वह फिल्म तेरे बिन लादेन में दिखे थे।

फरदीन खान

आखिर में बात करेंगे मोस्ट हैंडसम अभिनेताओं में से एक फिरोज खान की। उस समय में लड़कियां फिरोज खान के लुक की दिवानी हुआ करती थीं। फिरोज ने एक से एक हिट फिल्म दी जिसमें कुर्बानी, यलगार और गीता मेरा नाम शामिल है। फिरोज के बाद फिल्मों में उनके बेटे फरदीन खान ने भी किस्मत आजमाई। फरदीन ने 90 के दशक में फिल्म प्रेम अग्न से बॉलीवुड में कदम रखा था। शुरुआती दिनों में कुछ औसत फिल्में दे वह धीरे-धीरे फ्लॉप होने लगे। इसके बाद वह सपोर्टिंग रोल करते दिखे। आखिरी बार वह साल 2010 में आई फिल्म दूल्हा मिल गया में देखे गए थे।

Source